Quote 020 – Relations

Quote 020 – Relations

रिश्ते प्रेशर कूकर के रबर की तरह लचीले बनाए रखिये। इससे मन का गुबार सही समय पर बाहर निकल जायेगा, रिश्तों का ज़ायका बना रहेगा और ज़िन्दगी में खुशियों की सीटियां बजती रहेगी।

Comments are closed.